मध्य प्रदेश

मैं मर भी गया तो फीनिक्स पक्षी की तरह फिर जिंदा हो जाऊंगा – शिवराज सिंह चौहान

मध्य प्रदेश में इन दिनों प्रदेश Shivraj Singh Chouhan का बयान हो रहा है वायरल। उन्होंने कहा मैं मर भी गया तो फिनिशिंग पक्षी की तरह फिर जिंदा हो जाऊंगा। आगे कहा मैं किसानों का दर्द समझता हूं, क्योंकि मैं भी एक किसान का बेटा हूं और आज भी राजनीति के साथ -साथ में समय -समय पर खेती करता हूं। केंद्रीय मंत्री शिवराज सिंह चौहान अपने भाषण में कहा था।

अब इन पंक्तियों को राजनीति गलियारों में इसको जोड़कर देखा जा रहा है जब-जब शिवराज सिंह चौहान का कद छोटा हुआ है तब तक शिवराज सिंह चौहान उसे ज्यादा ताकतवर बनकर उभरे हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री से लेकर केंद्रीय मंत्री बनने तक शिवराज सिंह चौहान का BJP की राजनीति में बड़ा योगदान रहा है।

फीनिक्स पक्षी की तरह जिंदा हो जाऊंगा?

दरअसल ,विधानसभा चुनाव के बाद शिवराज सिंह चौहान को मुख्यमंत्री बनाने को लेकर तरह-तरह की चर्चाओं से राजनीति काफी गर्म थी तभी कांग्रेस आईटी सेल ने शिवराज सिंह चौहान को श्रद्धा के पोस्टर जारी किए थे यह शिवराज सिंह चौहान के उन पोस्टों का पलटवार था,

जो शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि मैं मर भी गया तो फीनिक्स पक्षी की तरह फिर जिंदा हो जाऊंगा। शिवराज सिंह चौहान का यह पुराना बयान इन दिनों काफी चर्चाओं में है वह सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

शिवराज बने कृषि मंत्री

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व केंद्रीय कृषि मंत्री शिवराज सिंह चौहान विदिशा से ऐतिहासिक जीत हासिल करने के बाद उनको पार्टी ने बड़ा तोहफा दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का दिल उन्होंने ने जीत लिया है।

यही वजह है, कि शिवराज सिंह चौहान को अपने विश्वासपात्र मंत्रियों में शामिल कर शिवराज पर भरोसा जताते हुए उनको कृषि मंत्रालय का पदभार सौंपा है। आपको बता दें राजनीति में शुरू से ही शिवराज सिंह चौहान को खेती और किसानी में हमेशा ही दिलचस्पी रही है, यही कारण है कि केंद्र में उनको कृषि मंत्रालय सौंपा गया है।

क्या होता है फीनिक्स पक्षी ?

फीनिक्स एक बहुत ही रंगीन पक्षी है जिसकी सुनहरी या बैंगनी पूंछ होती है (कुछ कहानियों में हरा या नीला)। इसका जीवन चक्र 500 से 1000 वर्ष का होता है, जिसके अंत में यह अपने चारों ओर लकड़ियों और टहनियों का घोंसला बनाता है और उसी में जल जाता है। घोंसला और पक्षी दोनों जलकर राख हो जाते हैं और उस राख से एक नया फ़ीनिक्स या उसका अंडा पुनर्जन्म लेता है।

खबरें आपके लिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button