MP News: सीएम योगी के इस बयान से मध्य प्रदेश में ‘भूचाल’ चढ़ गया सियासी पारा, कांग्रेस ने किया पलटवार

CM Yogi adityanath In MP: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इन दिनों मध्य प्रदेश में जनसभाएं कर रहे हैं. जनसभाओं में आमतौर पर उनके बयान में बीमारू राज्य को परिभाषित किया जा रहा है. योगी ने शाजापुर, पन्ना सहित विभिन्न जिलों में जनसभाएं को संबोधित किया उन्होंने दिग्विजय सिंह और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ पर तंज कसा. अब कांग्रेस भी बीमारू राज्य के बयान पर पलटवार कर रही है

एमपी के मुख्यमंत्री और यूपी के मुख्यमंत्री योगी चुनावी सभाओं के मंच को साझा कर रहे हैं. और यह संदेश पहुंचा रहे हैं कि जब कांग्रेस यहां सरकार में थी तब मध्य प्रदेश की गिनती एक बीमारू राज्य के तौर पर हुआ करती थी. एमपी में सड़क, बिजली और पानी को लेकर बहुत समस्या थी. बीमारू राज्य एक ऐसा शब्द है जिसने भारतीय जनता पार्टी को कई विधानसभा चुनाव में लाभ पहुंचाया है. इस पर कांग्रेस ने भी पटवार करते हुए प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता के के मिश्रा के मुताबिक जहां बीजेपी की सरकार है वहां पर भ्रष्टाचार ,महंगाई और बेरोजगारी के कई मुद्दे पर चर्चा होनी चाहिए

पूरी खबर नीचे है…

Desi Jugad: यह देसी जुगाड़ देख चौंक जाएंगे आप सख्श ने ऑटो को बना दिया Scorpio वीडियो हुआ वायरल!
सीमा हैदर का खुल गया राज, सचिन को मिल गया बड़ा धोखा, बोली वो है मेरी पहली पसंद

MP में सड़क की क्या है तुलना

के के मिश्रा ने मीडिया से जानकारी साझा की चुनावी मंच से भाजपा के स्टार प्रचारक पिछले चार विधानसभा चुनाव से बीमारू राज्य को लेकर बयान दे रहे हैं. भाजपा को 18 साल तक जनता ने लगातार मौका दिया मगर ज्वलंत समस्याओं को हल नहीं कर सके. अब लोग बीमारू राज्य नहीं बल्कि भ्रष्टाचार मुक्त राज्य की कल्पना कर रहे हैं. इसलिए कांग्रेस को इस बार बहुमत देने जा रहे हैं. सीएम शिवराज और योगी आदित्यनाथ के बयानों से लगभग सामान्य दिखाई दे रही है यह दोनों राजनीतिक मंच से यह बयान दे रहे हैं कि जब पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का कार्यकाल था तो उस समय  एमपी में 60,000 किलोमीटर की सड़क थी. और वर्तमान में 5 लाख किलोमीटर की सड़क बन चुकी है

पेयजल को लेकर नल जल योजना

कांग्रेस प्रदेश कमेटी के सचिव मकसूद अली का कहना है कि यह आंकड़े गलत है. कांग्रेस के कार्यकाल में भ्रष्टाचार मुक्त सड़क बनाई गई थी. वर्तमान में आप जिस सड़क से गुजर जाएं वहां पर टोल टैक्स वसूले जा रहे हैं. यह सरकार कोई भी योजना मुफ्त में नहीं दे रही .पेयजल मामले में नल जल योजना का प्रचार प्रसार करते हुए कहा जा रहा है कि लाखों परिवार तक भाजपा सरकार ने जल पहुचाया. यह योजना शहर के आसपास ही नहीं ग्रामीण क्षेत्रों में असरदार साबित हुई है. वहीं कांग्रेस के तराना विधायक और प्रत्याशी महेश परमार का कहना है कि नल जल योजना में करोड़ों का भ्रष्टाचार हुआ गांव में तो ना नल लगे और ना ही उसमें पानी टपक रहा.

For Feedback - vindhyariyasat@gmail.com
Join Our WhatsApp Channel

Related News

Leave a Comment