108 बार ओम नमः शिवाय का जाप करने से जिंदगी में होगा चमत्कार, पूरा जरूर पढ़ लें 

Om namah shivay: ओम नमः शिवाय एक ऐसा अदभुद मंत्र है जो पूरे ब्रह्माण्ड की शक्तियों को समेटे हुए है। इस मंत्र के जाप से ज्ञान, बल, आयु और समृद्धि का योग होता है। मंत्र के नियमित जाप से भविष्य की सभी कठिनाइयों से बचा जा सकता है। इस मंत्र में भगवान शिव, माता पार्वती, भगवान गणेश के अंश होते है, भगवान शिव सिद्धि , माता पार्वती आदि शक्ति, भगवान गणेश ज्ञान के लिंग है, यही वजह है कि यह मंत्र इतना शक्तिशाली है, नियमित 108 बार ज्ञाप करने से जिंदगी की सभी चुनौतियों से लड़ा जा सकता है।

कैसे करें मंत्र का जाप

इस मंत्र को जाप करने से पहले आपको पूर्ण पवित्र होना है। यहां पवित्र का विषय स्नान करने के साथ-साथ मन का शुद्धिकरण से भी है। इसके बाद 108 की माला और शुद्ध स्थान एकांत जगह ताक लें और मंत्र का जाप शुरू कर दें। ध्यान रखें कि मंत्र का जाप करते वक्त आपका ध्यान कहीं और भटकना नहीं चाहिए ,बल्कि आपका ध्यान एकाग्र होकर इस मंत्र के हर एक अक्षर पर लिप्त होना चाहिए

इस मंत्र में छुपी है ये शक्तियां

इस मंत्र में संसार की सभी बड़ी शक्तियां छुपी हुई है आपको बता दें भगवान शिव और माता पार्वती, भगवान गणेश को इस मंत्र के जरिए प्रसन्न किया जा सकता है। ओम नमः शिवाय पांच अक्षरी इस मंत्र में समस्त ब्रह्मांड की शक्तियां छुपी होती हैं। मोक्ष, शांति , सुख, ज्ञान, बल इस मंत्र के जाप से ही व्यक्ति को मिलनी शुरू हो जाती है। सबसे अहम बात ये है की मंत्र का जाप करने से आप पूरे दिन ऊर्जावान महसूस करेंगे। और काम में पूरी तरह से मन लगेगा

ओम नमः शिवाय

ॐ नमः शिवाय मन्त्र बिना “ॐ” के नमकम् अध्याय के आठवे स्तोत्र (टी.एस. 4.5.8.1) में ‘नमः शिवाय च शिवतराय च’ (IAST: Namaḥ śivāya ca śivatarāya ca) के रूप में उपस्थित है। इसका अर्थ है “शिव को नमस्कार, जो शुभ है और शिवतरा को नमस्कार जिनसे अधिक कोई शुभ नहीं है।

For Feedback - vindhyariyasat@gmail.com
Join Our WhatsApp Channel

Related News

Leave a Comment