MP News: कांग्रेस के इस दिग्गज नेता के गढ़ से चुनाव लडेंगे शिवराज? बीजेपी के सेंधमारी की पूरी तैयारी

Chhindwara loksabha chunav 2024 : वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी की लहर होने के बावजूद भी एमपी में भाजपा पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के गढ़ छिंदवाड़ा की सीट को जीत नहीं पाई हालांकि 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने 29 में से 28 सीटें जीती थी बस इकलौती छिंदवाड़ा की सीट रह गई थी। कांग्रेस के मजबूत किले में सेंधमारी करने के लिए भाजपा रणनीति बनाने में जुटी है। राजनीति सलाहकारों की माने तो भाजपा छिंदवाड़ा सीट पर जीत के परचम फहराने के लिए पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान पर भरोसा कर सकती है

MP News: सीधी सतना सहित मध्य प्रदेश के इन लोकसभा सीटों पर भाजपा घोषित कर सकती है प्रत्याशियों की सूची

 

MP News: छिंदवाड़ा लोकसभा सीट कांग्रेस का हमेशा गढ़ माना गया है इस सीट पर साल 1952 से लगातार जीती आ रही है 72 सालों में भाजपा महज एक बार ही यहां से जीत पाई थी उपचुनाव में सुंदरलाल पटवा ने कमलनाथ को हरा दिया था और सुंदरलाल पटवा महज 1 साल के लिए ही सांसद रहे थे. बाकी समय कांग्रेस का ही कब्जा रहा वर्तमान में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ यहां के सांसद हैं वही सीट पर कमलनाथ और उनकी पत्नी अलका नाथ भी सांसद रहे चुके हैं

बीजेपी की बढ़ सकती है मुश्किलें 

एमपी के छिंदवाड़ा सीट कांग्रेस के लिए मुसीबत बनी हुई है। राम मंदिर की लहर हो या पीएम मोदी की लहर बावजूद इसके भाजपा इस सीट पर विजय नहीं पा सकती वर्ष 2014 के चुनाव में भाजपा ने प्रदेश की 29 सीटों में से 27 सीटों पर जीत हासिल की लेकिन, 2019 के चुनाव में तो 29 में से 28 सीटें भाजपा ने लाई लेकिन छिंदवाड़ा सीट नहीं जीत सकी

‘शिवराज पर जता सकते हैं भरोसा’

राजनीतिक विशेषज्ञ का मानना है कि कांग्रेस की इस सीट को भेदने के लिए भाजपा रणनीति बनाने में जुटी हुई है। ऐसा कहा जा रहा है कि छिंदवाड़ा लोकसभा सीट पर भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर भरोसा कर सकती है अगर ऐसा होता है तो 20 साल बाद एक बार फिर शिवराज सिंह चौहान को लोकसभा चुनाव के मैदान में उतर सकते है. 

छिंदवाड़ा सीट से कब कौन सांसद 

छिंदवाड़ा सीट का गठन वर्ष 1952 लाइटिंग में हुआ पहले चुनाव में यहां कांग्रेस के रायचंद भाई साहब विजई हुए इसके बाद 1997 में कांग्रेस के नेता भीकूलाल लक्ष्मचंद 1962 में नारायण राम मनीराम 1967 में भीकू लाल लक्ष्मी चंद 1971 में गार्गी शंकर मिश्रा 1977 में गार्गी शंकर मिश्रा 1980 में गार्गी शंकर मिश्रा और 1980 1984 1989 1995 और 96 कमलनाथ सांसद रहे

साल 1997 छिंदवाड़ा से कमलनाथ की पत्नी अलकानाथ सांसद रही 1998 भाजपा के सुंदरलाल पटवा और 1998 कमलनाथ दोबारा चुनाव जीते थे 2004 ,2009 ,2014 में कमल नाथ छिंदवाड़ा से सांसद बने साल 2019 लोकसभा चुनाव में कमलनाथ के पुत्र नकुलनाथ यहां से सांसद चुने गए थे

For Feedback - vindhyariyasat@gmail.com
Join Our WhatsApp Channel

Related News

Leave a Comment