MP News: CM शिवराज की घोषणा, हर 50 परिवार पर तैनात होगा एक जनसेवा मित्र, करेगा आपकी चिंता 

MP News: CM शिवराज की घोषणा, हर 50 परिवार पर तैनात होगा एक जनसेवा मित्र, करेगा आपकी चिंता

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान चुनावी साल में कई बड़ी घोषणाएं कर रहे हैं। इसी बीच मुख्यमंत्री ने जनसेवा मित्रों की तादाद में बढ़ोतरी करने की घोषणा की है। स्वतंत्रता दिवस में दिए भाषण में मुख्यमंत्री ने प्रदेश के हर 50 परिवार पर एक जन सेवा मित्र देना तक करेंगे. कहना है कि प्रशासन एवं जनता के बीच एक सेतु का काम करेंगे यह जनसेवा मित्र हर एक सामान्य इंसान तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाएंगे,

मुख्यमंत्री ने जानकारी दी की जन सेवा मित्रों से प्रदेश के लोगों को फायदा पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है कोई व्यक्ति किसी वजह से राशन लेने अगर नहीं पहुंचता तो जन सेवा मित्र उनके घर तक राशन पहुंचाने में भी सहायता करेंगे

सोनिया मीणा को मध्य प्रदेश हाई कोर्ट से मिली थी फटकार, फिर हुआ ऐसा की जीत गई केस 

सीएम शिवराज ने बताया कि हमें प्रशासन और जनता के बीच सेतु का निर्माण करना पड़ेगा जो पात्र हितग्राहियों तक सरकार की सभी योजनाओं पहुंचाएंगे उन्होंने बताया कि प्रदेश में मौजूद जन सेवा मित्र 4 से 5 पंचायत के बीच की संख्या में है। पर जल्द से जल्द उनकी संख्या में वृद्धि की जाएगी 50 परिवारों में एक जन सेवा मित्र को कार्य देंगे

मुख्यमंत्री ने कहा कि जन सेवा मित्र परिवारों की देखरेख करेंगे तथा उनका लाल पालन करेंगे मुख्यमंत्री ने साफ तौर पर कहा देखरेख चिंता के मायने किसी परिवार के बीमार को स्वस्थ योजना का लाभ देने को लेकर राशन दिलाने तक की जिम्मेदारी लेनी पड़ेगी. आगे उन्होंने बताया कि आने वाले समय में प्रदेश में इन जन सेवा मित्रों की संख्या तीन लाख से ज्यादा होगी, सीएम ने यह भी जानकारी दी कि सरकारी नौकरी नहीं है लेकिन जनता को इससे मदद पहुंचाने के लिए युवाओं को मौका मिलेगा इसके साथ ही प्रशासकीय कार्यों को समझ लेने की मौके के साथ-साथ महीने का मानदेय भी दिया जाएगा,

उन्होंने बताया कि शुरुआती दौर पर जन सेवा मित्र को ₹8000 प्रति माह दे रहे हैं जो इसे बढ़ाकर ₹10000 प्रतिमा करेंगे तथा अगले चरण में इसे अगस्त माह को इतने ही जनसेवा मित्र की नियुक्ति की गई। जिसमें नए और पुराने जनसेवा मित्र मिलकर प्रदेश के जिले के गांव गांव तक जनता एवं प्रशासन के बीच एक सेतु का निर्माण करेंगे,

For Feedback - vindhyariyasat@gmail.com
Join Our WhatsApp Channel

Related News

Leave a Comment