Mauganj News: स्त्री का संघर्ष मरने के बाद भी 5 घंटे तक चिता पर रखा रह गया शव, 30 घंटे बाद किया गया अंतिम संस्कार

By
Last updated:

Mauganj News: स्त्री का संघर्ष मरने के बाद भी 5 घंटे तक चिता पर रखा रह गया शव, 30 घंटे बाद किया गया अंतिम संस्कार

स्त्री का संघर्ष कई सदियों से चलता रहा है एक बार फिर ऐसा ही कुछ देखने को मिला है नवीन जिला मऊगंज के हनुमना थाना अंतर्गत हाटा चौकी के ग्राम पंचायत बरही के ग्राम पिपरौही में जहां एक महिला का शव चिता में 5 घंटे से भी अधिक तक रखा रह, और 30 घंटे में शव का अंतिम संस्कार किया गया, दरअसल यह मामला है 17 अगस्त का जहां एक महिला का शव फांसी के फंदे पर लटकता मिला आनन-फानन में ससुराल वालों ने पुलिस को सूचना दी मौके पर पुलिस पहुंची और जांच में जुटी, जिसके बाद हनुमना थाना प्रभारी और एसडीओपी मऊगंज भी पहुंचे वही शव को कब्जे में लेते हुए पीएम के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हनुमना ले जाएगा, 18 अगस्त की सुबह जब मायका पक्ष पहुंचा तो विवाद की स्थिति निर्मित हुई, हालाकि पुलिस की मौजूदगी के कारण विवाद नहीं बढ़ा, इसी बीच मृतका का शव चिता में ही 5 घंटे से ज्यादा रखा रहा, मायका पक्ष न्याय की मांग में डटा रहा, जिसके वजह से देरी हुई, देवतालाब नौढ़िया निवासी है,

इस कारण बनी विवाद की स्थिती 

दरअसल ,नवीन जिला मऊगंज के हनुमना थाना के अंतर्गत ग्राम पंचायत बरही के ग्राम पिपरौही में एक 23 वर्षीय विवाहित महिला का शव फांसी के फंदे पर झूलता मिला, जिसके कारण मायके पक्ष ने हत्या का आरोप लगाया, सैकड़ों की संख्या में पहुंचे मायके पक्ष को देख ससुराल और ग्रामीण एक किलोमीटर दूर जा बैठे, पुलिस के लाख समझाइश के बावजूद भी मायका पक्ष नहीं माना और अलग अलग बाते करने लगे , ग्राम पंचायत में विवाद की स्थिती सुन बरही सरपंच अश्वनी मौर्य ने दोनो पक्षों से बात की था समझाइश दी, जिसके बाद ससुराल पक्ष ने शव का अंतिम संस्कार किया, 

मायका पक्ष ने लगाए आरोप 

मृतका के मायका पक्ष के चाचा, बहन, भाई, का आरोप है कि ये सब दहेज के लिए परेशान करते थे। आए दिन लड़ाई दंगा और मारपीट करते थे। इसमे सास ससुर के साथ देवर पति और ननद आए दिन प्रताड़ित करते थे। इन सब ने मिलकर हत्या कर दी। मृतका की बहन ने बताया कि उसको फोन पर बात भी नहीं करने देते थे। वो कम पढ़ी लिखी थी, जिसके कारण उसे परेशान करते थे। और आज हत्या कर दी, 

मृतका के ससुर ने कहा नहीं की हत्या 

मीडिया को जानकारी देते हुऐ मृतका के ससुर ने बताया की घर में हम दो बूढ़े और बहु रहते थे। जिस दिन यह घटना हुई हम खेत में घास काट रहे थे। जब हम खेत से घर आए तो देखा कि बहु हमारी फांसी पर लटक रही है। उन्होंने बताया कि घर में केवल हम तीन लोग थे, मृतका का पति हैदराबाद कमाने गया हुआ था, 

घटना कब और कहा हुई 

यह घटना मऊगंज जिले के हनुमना थाना अंतर्गत ग्राम पंचायत बरही के ग्राम पिपरौही में हुई है। जहां पूजा पटेल उम्र 23 वर्ष का शव फांसी के फंदे पर लटकता पाया गया। आनन-फानन में घटना की सूचना पुलिस को दी गई जिसमें पुलिस जांच में जुट गई, वहीं एसडीओपी मऊगंज थाना प्रभारी हनुमान भी पहुंचे शव कब्जे में लिया और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजवा दिया गया जहां शव का पीएम हुआ। जिसके बाद शव को ससुराल पक्ष के हवाले कर दिया गया, आज 18 अगस्त को हुआ अंतिम संस्कार,

हाटा हनुमना पुलिस रही मौजूद

पुलिस की देखरेख में शव का अंतिम संस्कार होना था जिसके कारण सुबह से ही हाटा और हनुमना थाना के चार जवान मौजूद रहे। ससुराल और मायके पक्ष में विवाद ना निर्मित हो जिसके कारण पुलिस तैनात की गई थी ठीक वैसा भी हुआ ससुराल और मायके पक्ष के बीच  बड़ा विवाद नहीं हुआ। इसी बीच मायके पक्ष के लोगो ने आने में विलम्ब किया जिसके कारण चिता पर शव कई घंटे तक रखा रह गया, यह सब देख ससुराल पक्ष और ग्रामीण एक किलोमीटर दूर जा बैठे, सरपंच के समझाइश के बाद ससुर ने चिता को मुखाग्नि दी,

For Feedback - vindhyariyasat@gmail.com
Join Our WhatsApp Channel

Related News

Leave a Comment