अपनी मांग पूरा कराने के लिए व्यक्ति ने मंत्री के ऊपर डाल दी हल्दी, फिर कार्यकर्ताओं ने की पिटाई 

अपनी मांग पूरा कराने के लिए व्यक्ति ने मंत्री के ऊपर डाल दी हल्दी, फिर कार्यकर्ताओं ने की पिटाई 

महाराष्ट्र राज्य के राजस्व मंत्री राधा कृष्ण पाटिल पर 8 सितंबर को एक व्यक्ति ने हल्दी पाउडर ऊपर डाल दिया, बताया गया कि आरक्षण की मांग कर रहे एक समुदाय के व्यक्ति के साथ बैठक कर रहे थे तभी व्यक्ति ने अचानक जब से हल्दी पाउडर निकाला और राजस्व मंत्री के ऊपर छिड़कने लगा, इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, बताया गया की धननगर समुदाय के दो लोग मंत्री के दोनों साइड खड़े दिखाई दे रहे, एक व्यक्ति के द्वारा एक पत्र सौंपा गया और मंत्री जी जब पत्र पढ़ रहे थे तभी व्यक्ति ने उन पर हल्दी पाउडर डाल दिया,

Viral video: बंदर और सांप की दोस्ती दे रही मिशाल , इस बंदर की हिफाजत करता है। किंग कोबरा 

वायरल वीडियो में देखा गया कि पाटिल के सहयोगियों ने उसे व्यक्ति को पकड़ लिया और जमीन पर गिराते हुए लात घुसे बरसने लगे, इस घटना की जानकारी के मुताबिक सोलापुर जिले के सरकारी रेस्ट हाउस में यह वारदात हुई, हल्दी पाउडर डालने वाला व्यक्ति जनजाति समुदाय के रूप में पहचान की गई सख्त ने मीडिया को जानकारी दी कि अपने समुदाय के सामने आने वाले विकासशील मुद्दों पर सरकार का ध्यान आकर्षित कराने के लिए एक ऐसा कृत किया, धन नगर समुदाय के अनुसूचित जनजाति ST श्रेणी के तहत आरक्षण की मांग कर रहा था, इस घटना के बाद उसने चेतावनी दी अगर मांग जल्द ही पूरी नहीं की गई तो वह मुख्यमंत्री या अन्य राज्य मंत्रियों के ऊपर काले रंग फेंक देगा

वह इस घटना के बाद राधा कृष्ण पाटिल ने बताया कि यह गलत नहीं है। क्योंकि हल्दी पाउडर का उपयोग धार्मिक अनुष्ठानों में किया जाता है। और हल्दी पाउडर को हम पवित्र मानते हैं. उन्होंने बताया कि यह काफी खुशी की बात है। उन्होंने बताया कि प्रदर्शनकारी के खिलाफ किसी भी तरह की कार्रवाई नहीं की जाएगी, जब मीडिया ने सवाल किया कि तब उसे व्यक्ति की पिटाई क्यों की गई तब राजस्व मंत्री ने कहा कि तब किसी को कुछ समझ में नहीं आया, वह तो स्वाभाविक प्रतिक्रिया होती है। उन्होंने बताया कि पार्टी के कार्यकर्ताओं से उस व्यक्ति के पीछे नहीं जाने को कहा गया, राज्य सरकार द्वारा प्रदान किए गए आरक्षण को उच्चतम न्यायालय के द्वारा रद्द किए जाने से नाराज मराठा समुदाय के सदस्यों ने अपना आक्रामक विरोध दिखाए,

For Feedback - vindhyariyasat@gmail.com
Join Our WhatsApp Channel

Related News

Leave a Comment