NCRB Report: हर 3 घंटे.. हर दिन 78 हत्याएं… भारत में क्राइम के ये आंकड़े दहलाने वाले है…

राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो (NCRB) की सालाना अपराध रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2022 में हत्या के सर्वाधिक 9962 मामलों में मामूली विवाद कारण था, इसके बाद 7661 मामले में व्यक्तिगत, प्रतिशोध या दुश्मनी एवं 1884 मामलों में लालच ,फायदा उठाना था, लेकिन 2021 के मुकाबले ऐसे मामले में कमी आई है

National crime record buro की रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2022 में देश में 28,522 हत्या के मामले रजिस्टर्ड किए गए. मतलब औसतन हर दिन 78 हत्याएं हुई है। साथ ही हत्या के कुल 28,522 मामले भी दर्ज किए गए, जो साल 2021 में (29272 )मामलों की तुलना में 2.6 की मामूली गिरावट देखी गई है

साल 2022 में महिलाओं के खिलाफ अपराध के कुल 4,452,56 केस दर्ज किए गए हैं जो 2021 में 428278 मामलों की तुलना में 4. 00% की बढ़ोतरी दर्शाता है

4 दिसंबर यानी आज जारी हुई राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड की ब्यूरो (NCRB) की वार्षिक अपराध रिपोर्ट के अनुसार 2022 में मर्डर के कुल 28,522 फिर दर्ज किए गए मतलब हर दिन औसतन 78 हत्याएं या हर घंटे में तीन से अधिक हत्या हो रही है, लेकिन यह 2021 में 29272 और 2020 में 29193 हत्या के केस कम हुए हैं

लाडली बहना योजना का नाम सुनते ही भड़क गए बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव बोले क्या छत्तीसगढ़, राजस्थान में थी योजना 

सात समंदर लांघ कर आए विधानसभा चुनाव लड़ने, रीवा की इस विधानसभा सीट में मिली निराशा 

Animal Boxoffice collection: रणवीर की Animal ने तोड़ डाले सारे रिकॉर्ड बॉक्स ऑफिस में अब तक इतनी हुई कमाई! 

इन आंकड़ों के मुताबिक साल 2022 में हत्या के 9962 केस मैं मामूली विवादित कारण था जिसके बाद 3761 मामलों में व्यक्तिगत प्रतिशोध और 1884 मामलों में फायदा लालच था, देश भर में प्रति लाख जनसंख्या पर हत्या की दर 2.1 थी. ऐसे मामलों में आरोप पत्र दायर करने कि दर 81.5 थी

क्या है इन राज्यों के आंकड़े

बीते वर्ष उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक 3491 FIR दर्ज की गई जिसके बाद बिहार 2930 .महाराष्ट्र 2295 .मध्य प्रदेश में 1978 राजस्थान में 1834 इन पांच राज्यों में हत्या के 43.52 प्रतिशत मामले सामने आए

NCRB रिपोर्ट के अनुसार 2022 में सबसे कम हत्या के मामले वाले पांच राज्यों में नागालैंड (21) मिजोरम ( 31) सिक्किम (9) गोवा और मणिपुर (47)थे

केंद्र शासित प्रदेशों में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में साल 2022 में हत्या के 509 मामले सामने आए इसके बाद जम्मू कश्मीर में 99 चंडीगढ़ में 18 पांडिचेरी में 30 दादरा और नगर हवेली दमन दीप में सोलन दवा निकोबार दीप समूह में साथ लद्दाख में पांच और लक्षद्वीप में शून्य मामले सामने आए

अगर पूरे देश की बात करें तो 2022 में हत्या किधर झारखंड में चार सबसे अधिक थी जिसके बाद अरुणाचल प्रदेश में 3.6 छत्तीसगढ़ और हरियाणा में 3.4 असम और उड़ीसा में तीन थे
प्रति लाख जनसंख्या पर अपराध के मामले में उत्तर प्रदेश 1.5 बिहार 2.3 मध्य प्रदेश 2.3 महाराष्ट्र के दशमलव 8 राजस्थान 2.3 का प्रदर्शन बेहतर रहा

उम्र के संदर्भ में हत्याओं की बात करें तो 95.4% पीड़ित व्यस्त थे एनसीआरबी की रिपोर्ट के अनुसार कुल हत्याओं में से 8 125 महिलाएं और 9 तीसरे जेंडर के व्यक्ति थे लगभग 70% पीड़ित पुरुष थे

For Feedback - vindhyariyasat@gmail.com
Join Our WhatsApp Channel

Leave a Comment