कल आएगी किसान सम्मान निधि की 15वी किस्त, इस वजह से नहीं मिलेगी इनको राशि 

PM kisan samman Nidhi 15th installment: केंद्र सरकार के द्वारा किसानों को आर्थिक सहायता देने के लिए पीएम किसान सम्मान निधि की 15वीं किस्त लाभार्थियों के खाते में जाने वाली. केंद्र सरकार की तरफ से ₹2000, 15 नवंबर को पात्र लाभार्थी किसानों के खाते में डीबीटी के माध्यम से ट्रांसफर किए जाएंगे. सरकार की ओर से एक बार फिर अपात्र किसानों का नाम लिस्ट से बाहर किया गया है. 15वीं किस्त के बारे में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने ट्वीट कर इसके बारे में जानकारी दी है.

हर बार की तरह इस बार भी करोड़ों किसान पीएम किसान सम्मान निधि की 15वीं किस वंचित रह सकते हैं. सरकार के द्वारा पहले ही कहां गया था कि ऐसे किसानों के खाते में पैसे नहीं आएंगे जिनके अकाउंट अलग-अलग पोर्टल से लिंक  हुआ है. इसके अलावा भूलेख सत्यापन और आधार की सीडिंग करना भी जरूरी है. आधार सेटिंग करने वाले किसानों को ही सरकार की तरफ से 15वी किस्त का पैसा दिया जाएगा

पूरी खबर नीचे है…

चुनाव लड़ने का हौसला, 31 बार हारे, अब 32वी बार ठोकी ताल, जानिए 78 साल के तीतर सिंह का हाल
दिवाली के दिन अंतरिक्ष से ऐसा दिखा ‘ भारत ‘ सोशल मीडिया पर वायरल हुई फोटो

हर चार महीने पर 2000 रुपये की क‍िस्‍त

किसानों की आर्थिक रूप से सशक्त करने के लिए सरकार के द्वारा चलाई गई पीएम किसान सम्मान निधि के तहत पात्र किसानों को हर वर्ष ₹6000 दिए जाते हैं. इस योजना के तहत ₹2000 की किस्त हर एक चार महीने में जारी की जाती है. पिछले दिनों सरकार के द्वारा दी गई रिपोर्ट में अपात्र किसानों की तरफ से योजना का फायदा उठा रहे किसानों का नाम कटेंगे.

इसके बाद किसानों के सत्यापन के लिए केवाईसी भी शुरू किया गया. योजना की पात्रता के लिए भूलेख सत्यापन के साथ ही आधार की सेटिंग भी जरूरी है ई केवाईसी न करने वाले किसानों की इस बार योजना का फायदा नहीं उठा पाएंगे ई केवाईसी करने के लिए निम्नलिखित प्रक्रिया को फॉलो करना बहुत जरूरी है

कैसे पूरा करें e-KYC प्रोसेस

सर्वप्रथम प्रधानमंत्री किसान योजना के आधिकारिक वेबसाइट पर आप जाएं इसके बाद फॉर्म कॉर्नर के तहत ई केवाईसी ऑप्शन पर क्लिक करें यहां आप अपने आधार नंबर और मांगी गई जानकारी दर्ज कर सकते हैं और अपने मोबाइल नंबर पर ओटीपी सबमिट कर दें.

For Feedback - vindhyariyasat@gmail.com
Join Our WhatsApp Channel

Leave a Comment